Widow right in property

सर, मेरे दादाजी की मृत्यु करीब 40 हाल पहले हो चुकी है। उनके नाम पर जो सारी संपत्ति (कृषि भूमि, मकान इत्यादि) थी उसके लिए मेरे पिताजी व चाचाजी को सहमति से बराबर उत्तराधिकार दिया गया। कृषि भूमि के कागजात/खतौनी पर मेरे पिताजी व चाचाजी का नाम बराबर हिस्सेदारी के लिए अंकित हुआ। मेरी दादी जिंदा है तथा उनका किसी भी कागजात/खतौनी में न तो हिस्सेदारी के लिए नाम अंकित है और ना ही उनको कोई हिस्सा मिला है। क्या इस कृषि भूमि में दादी की बराबर हिस्सेदारी के लिए दावा किया जा सकता है??? यदि दादी को पैतृक भूमि में बराबर हिस्सा मिल जाए और खतौनी में नाम दर्ज हो जाए, तो क्या उस जमीन/संपत्ति के लिए वो सीधे मुझे वारिस बना सकती है???? नोट: उपर्युक्त सभी संपत्ति पैतृक है???