Sec 13 divorce

सर मेरा डिवोर्स का केस सीनियर सिविल जज खंभालिया गुजरात में सेक्शन 13 के तहत तकरीबन 2 साल से चल रहा है जिसमें सामने वाली पार्टी एक भी तारीख में आई नहीं और ना ही एक भी नोटिस उन्होंने लिया है एक नोटिस प्रत्युत्तर में ऐसा लिखा था कि वह पढ़ने के लिए बाहर गई हुई है उसके बाद के कोई भी नोटिस उन्होंने लिए नहीं उसके बाद मेरे पर उसी एड्रेस पर से 498 ए की एफ आई आर दर्ज की हुई है उसकी कॉपी भी मैंने जमा की है परंतु कोर्ट इससे संतुष्ट ना हो के अप्रैल 2019 को पब्लिक नोटिस छपवाने के लिए आर्डर देती है जिसको छापने में मुझे ₹16000 का खर्च आता है उसके बाद सिविल कोर्ट के जज यह पब्लिक नोटिस का ऑर्डर बाय मिस्टेक दिया हुआ है ऐसा बता कर इसको केस में मान्यता देने से मना कर देते हैं और दूसरा एक आर्डर करने के लिए कहते हैं जो जो 12 फरवरी 2020 को पब्लिक नोटिस में दोबारा छुपाया जाता है जिस का खर्चा साडे ₹10500 आता है परंतु उसके बाद भी अभी भी लड़की के एड्रेस पर नोटिस भेजी जा रही है पब्लिक नोटिस में जो 12 फरवरी की लास्ट डेट दी हुई थी उसके बाद भी कई तारीख है डाल चुके हैं परंतु अभी भी कोई भी न्याय हमारे फेवर में नहीं किया जा रहा है कृपया अपनी राय दें